whatsapp end to end encryption kya hai।एन्क्रिप्शन मीनिंग इन हिंदी व्हाट्सएप्प।जानिए हिंदी में।


End to end encryption kaise kaam karta hai,end to end verify kaise karen
एन्क्रिप्शन मीनिंग इन हिंदी व्हाट्सएप्

Whatsapp,जो की एक पॉपुलर social media platform है।जिसके साथ आप लोगो से जुड़ पाते हैं,आप अपने परिजन से बात कर पाते हैं चाहे वो मेसेज या फिर कॉलिंग के जरिए ही क्यों ना हो।ऐसे में आप जब भी किसी को पहली बार message भेजते हो तभी आपको एक text दिखाया जाता है। 
जिसमें आपको बोला जाता है कि end to end encryption के वजह से आपका मेसेज secure हैं।

अब आप सोचते हैं आखिर में ये whatsapp end to end encryption kya hai .
तो दोस्तो आज हम इसी whatsapp end to end encryption के बारे में बताने वाले हैं ,इसीलिए आप पूरा लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ ली जिससे आपको बाद मै कोई confusion ना रहे।

whatsapp end to end encryption kya hai?


दोस्तो whatsapp एक ऐसे माध्यम है जिसमें आप अपने private ओर business मेसेजेस भेज ते हैं।ऐसे में WhatsApp messages की  security में एक तरह का खालीपन जरूर था।इस खालीपन को ही हटाने ओर सिक्योरिटी को पांच गुना मजबूत करने के लिए End to End encryption को लाया गया।
तो चलिए सबसे पहले समझ लेते हैं End to End Encryption का मतलब क्या होता है यानी End to End Encryption का meaning हिंदी में क्या होता है।


End to End Encryption का मतलब क्या होता है(Meaning of End to End Encryption In Hindi)?


दोस्तो End to End Encryption का होना मतलब एक दूसरे से बिना किसी Third Party के दखल अंदाजी के जुड़ना है।
जैसे कि नाम से ही पता चल जाता है कि Connection एन्क्रिप्टेड रहता है।ऐसे में किसी दूसरे व्यक्ति कुछ भी access नहीं कर सकता है।
एक उदाहरण से आप ओर भी बारीकी से इसे समझ सकते है। मान लीजिए आप ओर आपके दोस्त एक call में connected हैं तो कोई Third Party इसे access नहीं कर सकता अगर ये call End to End Encrypted है तो।
जैसे कि नाम में है कि End to End यानी आप ओर आपके फ्रेंड ही सिर्फ है,इसके अतिरिक्त कोई ओर ना आपके बात को सुन सकता है ना कोई कर सकता है रिकॉर्ड।

Read Also

अब सायद आप आधा समझ ही चुके होंगे कि whatsapp End to end encryption kya hai,यानी क्या है एन्क्रिप्शन मीनिंग इन हिंदी व्हाट्सएप्प।
दोस्तो ये एक security कारण के लिए बनाया गया था।जिसमें whatsapp ये बताता है कि आपका भेजा हुआ मेसेज सिर्फ ओर सिर्फ उसी को मिलेगा जिसको आप भेज ते हैं।यानि ये एक चैन कि तर पर काम करता है जिसमें सिर्फ receiver ओर sender ही रहता है।इसमें ओर कोई third party नहीं रह सकता,खुद whatsapp टीम भी इसमें मजुद नहीं रहता है।
अब आप इस लेख को पढ़के काफी खुश भी हुए होंगे की आपका whatsapp में मेसेजेस सुरक्षित है whatsapp end
to end encryption के द्वारा।

WhatsApp end to end encryption kaise Kaam karta hai? 


End to End encryption के बजह से आप अपने मेसेज को secure तो करते हैं।लिकिन क्या आपको सच में पता है कि Whatsapp end to end encryption कैसे काम करता है।चलिए जानते हैं–

जब आप किसी को भी मेसेज भेज ते है तो आप की मेसेज को एक क्रिप्टोग्राफ़िक ताले से secure किया जाता है।वो ताला का key सिर्फ ओर सिर्फ उसी के पास होता है जिसे आप messag भेजते है।ऐसे ही एक चैन की तरह आपका message,calls, photos,videos secure किया जाता है।

Whatsapp end to end encryption को verify कैसे करे?


दोस्तो हालांकि ये उतना जरूरी नहीं है,की आप हर contact के लिए end to end encryption verify करें।लिकिन आपको जानकारी प्रदान करना मेरा फ़र्ज़ है।इसीलिए हम जानेंगे की Whatsapp end to end encryption को verify कैसे करे?

Read Also


आप जब भी किसी को पहला मेसेज भेजते हैं उसी समय आपका whatsapp encryption ऑन हो जाता है। ये आपको एक मेसेज के द्वारा बताई जाता है।लिकिन अगर आप चेक करना चाहते हैं कि आपका Whatsapp end to end encryption ऑन है या नहीं।
तो आप ये steps follow कर सकते हैं–
1)whatsapp में किसी का भी acconts की   ऊपर टेप करना है जिससे आप  end to end encryption  verify करना चाहते हैं।
2)अब आपको three dot, right side  पर ऊपर की तरफ दिख जाएगा ।आपको उसपर टेप करना है।
3)अब आप view contact में जाए।ओर उसमे encryption पर टेप करें।
4)अब आपके सामने 60 अंको का नंबर सहित एक QR code दिखाया जाता है।आपको उस QR code को आपने contact को देना है ओर उसे इसको स्कैन करने को बोलना है।
इसी तरह आप अपने Whatsapp end to end encryption को verify कर सकते हैं।लिकिन अगर आप verify नहीं करें है,तो आपको घबराने की कोई बात नहीं।ये एक Optional प्रकिया है।

तो दोस्तो ये था whatsapp end to end encryption के बारे में ओर Whatsapp end to end encryption को verify करने की कुछ तथ्य।
आशा करता हूं कि आपको सब समझ आ गया होगा।ऐसे ही ज्ञानपूर्बक लेख पड़ने के लिए हमारे साथ जुड़े,notification allow कर दें,या फिर आप SaRaisay को Inatagram या Twitter में भी Follow कर सकते हैं।आजके लिए इतना ही फिर मुलाकात होगा एक नया ओर knowledgeable article के साथ।तब तक के लिए खुश रहिए।
                    जय हिन्द
                          बंदे मातरम