SEO क्या है?SEO कितने प्रकार के होता है?SEO In Hindi।On Page SEO ओर Off page SEO हिंदी में।

SEO ke bare me jamkari
SEO in Hindi
नमस्कार दोस्तो कैसे हो आप।आशा है आप अच्छे ही होंगे।आज हम एक जरूरी विषय को इस पोस्ट में सीखने वाले है।आज हर एक ब्लॉगर के लिए ये एक जरूरी विषय है।क्योंकि ब्लॉगिंग में सफलता पाने के लिए इसका जानना और समझना बोहोत ही जरूरी है।

हम अगली पोस्ट में जाने कि English कैसे सीखे जो कि ब्लॉगिंग से कुछ हटकर लिखा गया था और शायद आप उसको पढ़े भी होंगे।लिकिन आज इस पोस्ट में ब्लॉगिंग के एक जरूरी विषय पर चर्चा होने वाला है जो कि शायद आप टाइटल देख कर पता लगा लिए होंगे।
जी हां SEO!

SEO एक ऐसा नाम है जिसके पीछे हर ब्लॉगर भागता है।क्योंकि बिना SEO के ब्लॉग की उन्नति कल्पना करना मुश्किल है।
अगर आप नए हैं इस ब्लॉगिंग की क्षेत्र  में तो SEO के बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे। लिकिन आप इसका नाम जरूर सुने होंगे कहीं ना कहीं।
आज हम इसी SEO के बारे में थोड़ा बोहोत जानने वाले हैं जो शायद आपका जानना बोहोत जरूरी है।
खेर बात को और आगे ना ले जा कर अपनी आज की मूल विषय पर आते हैं और चलिए जानते है SEO के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी।

SEO के बारे में जानकारी


Blogging में सबसे ज्यादा डिमांड एक SEO अनुभवी व्यक्ति का ही होता है।आज की ऑनलाइन युग में ब्लॉगिंग को कैरियर या पार्ट टाइम करने वाले इंसान ज्यादातर SEO के ले कर ही चिंतित रह ते है।
हालांकि देखा जाए तो ये उतना मुश्किल भी नहीं है।
लिकिन किसी भी काम को करने से पहले उसके बारे में जानकारी रखना बोहोत ही उचित माना जाता है।
इसीलिए इस पोस्ट को आप अंत तक पड़ने पर SEO के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।तो चलिए एक एक कर जानते है SEO के बारे में।

SEO क्या है?(What is SEO in Hindi?)


SEO एक ऐसे तकनीक जिसके मदद से किसी भी प्लेटफॉर्म अतः किसी भी सर्च इंजन में कोई भी इंसान अपने लेख या किसी भी अपनी creativity को (जैसे कि Images,Graphics,Logo इत्यादि)आसानी से रैंक करा सकता है।
यहां पे रैंक का मतलब Google के First Page में Top 10 या Top 5 में आना को कहते हैं।

अगर SEO की फुल फॉर्म की बात करें तो इसका फुल फॉर्म होता है SEARCH ENGINE OPTIMISATION।जिससे आप थोड़ा सा इसके बारे में कल्पना कर सकते हैं कि ये असल में है क्या।

SEO को आप एक ओर भी तरीके से समझ सकते हैं।SEO एक ऐसे क्रिया है जिसको करने पर Google या किसी अन्य सर्च इंजन को ये निर्णय लेने में आसानी होता है कि  कोन सी वेबसाइट किस तरह क्रम में रखा जा सके।
हालांकि आपको ये भी स्पष्ट कर दे कि Google ने कभी भी अपने Search Engine के नियमों को Officialy नहीं बताया है।मतलब आप ने जो ऊपर दिए गए SEO के परिभाषा से पढ़े कि कोन सी वेबसाइट किस तरह क्रम में रखा जा सके ये Google ने कभी भी Officially नहीं बताया।
ये किसीको पूरी तरह से नहीं पता कि Google आर्टिकल्स को कैसे Rank करवाता है।लिकिन हां पर SEO का कल्पना करने के पीछे आप Experience को कह सकते हैं।
क्योंकि ये देखा गया है कि अच्छे से SEO करने से Google में आसानी से रैंक हो जाता है।

कितने प्रकार के होता है SEO?(Types Of SEO In Hindi?)


SEO की बोहोत से प्रकार है जिसके मदद से Google में अच्छी पोजिशन भी मिलता है।काम के हिसाब से SEO को अलग अलग भागो में विभाजित किया जा सकता है।
प्रमुख से चार प्रकार के SEO के नाम लिया जा सकता है।
जिसमें है

1.On Page SEO


ब्लॉग में या किसी ब्लॉग एक सिंगल पेज में Search Engine Optimisation करना को ही On Page SEO कहा जाता है।

On Page SEO में ब्लॉग पोस्ट को अच्छी तरह से ऑप्टिमाइजेशन करना होता है।क्योंकि किसी भी आर्टिकल को रैंक कराने के लिए On Page SEO बोहोत ही मायने रखता है एक ब्लॉगर के लिए।
जैसे कि नाम से ही पता चलता है कि ये एक किस्म SEO जिसका दायरा Blog या Blog पोस्ट तक सीमित होता है।इसके बाहर नहीं।On Page SEO की फुल कंट्रोल ज्यादातर ब्लॉग के लेखक के हात में ही होता है।क्योंकि एकमात्र ब्लॉग के लेखक ही इसके Edit का जिम्मेदारी लेते हैं।हालांकि ये भी बोहोत बार हो सकता है कि लिखे कोई एक ओर SEO करे कोई एक।इसके लिए बोहोत से क्रिएटर SEO professional को भी hire कर लेते हैं।

On Page SEO में क्या क्या चीज़े हैं?


जैसे कि आपने जाने कि On Page SEO में सिर्फ और सिर्फ Blog या एक सिंगल पोस्ट की SEO करना ही होता है।
तो ऐसे में आप इसके बारे में थोड़ा अंदाज़ा लगा सकते है।
On Page SEO में ज्यादातर ब्लॉग पोस्ट में छुपा हुआ कुछ SEO टैक्टिक्स के ऊपर खासा ध्यान दिया जाता है।
इसमें से प्रमुख है

  • 1000 से 2000 शब्द का लेख लिखना जिससे यूजर की पूरी कन्फ्यूजन clear हो सके।
  • Keywords को अच्छे ढंग से इंप्लीमेंट करना।
  • Keyword Density के ऊपर ज्यादा ध्यान देना।
  • Article Link को अच्छे से ऑप्टिमाइज़ करना ओर उसमे कीवर्ड डालना।
  • ब्लॉग पोस्ट के लिए Meta Description लिखना।
  • Blog Post की टाइटल को Search Engine Freindly बनाना। ब्लॉग पोस्ट में external लिंक लगाना।
  • ब्लॉग पोस्ट में शेयर बटन लगाना।
  • ब्लॉग पोस्ट में Heading,Subheading ओर Minor Heading का अच्छे से लिखना।ब्लॉ
  • ब्लॉग पोस्ट में अच्छे से लेबल लगाना।
  • ब्लॉग की थीम का लोडिंग टाइम कम रखना तथा थीम को Good Looking रखना।


On Page SEO के क्या फायदे हैं?


On Page SEO का फायदा ऐसा है कि आप सोच भी नहीं सकते।SEO में सबसे प्रमुख माने जाने वाला ये On Page SEO एक अच्छा उपाय हो सकता है जो की गूगल भी ज्यादा prefer करता है,हालांकि ये पूरी तरह से officially नहीं कहां गया।
On Page SEO से गूगल में ब्लॉग पोस्ट को अच्छी Position मिल सकता है।लिकिन ये बोहोत से चीजो के ऊपर निर्भर करता है On Page SEO भी उन्हीं में से एक है।
अब शायद आप On Page SEO के बारे में पूरी तरह से समझ गए हैं कि आखिर On Page SEO क्या है।अब चलिए जानते है एक ओर SEO के बारे में   

2.Off Page SEO


ब्लॉग के बाहर जो Search Engine Optimisation किया जाता है उसको ही Off Page SEO कहा जाता है।

On Page SEO के तरह भी ऐसा देखा गया है Off Page SEO भी बोहोत बड़ी भूमिका निभाती है किसी पेज को Google में रैंक करने में।
Off Page SEO को आप इस तरह से भी समझ सकते हैं जिसमें अगर आपके पास एक दुकान है,ओर आप दुकान के बाहर कुछ ऐसे क्रिया करते है जिससे आपकी दुकान की पॉपुलैरिटी बढ़े ओर कमाई भी तगड़ा हो।

Off Page SEO भी काफी पॉपुलर है ऑनलाइन क्रिएटर के बीच।हर एक ब्लॉगर जो ब्लॉगिंग को अपने passion मान ता है वो Off Page SEO काफी गंभीरता से भी लेता है।
क्योंकि बिना Off Page SEO के Google में रैंक करने के बारे में सोचना थोड़ा मुश्किल है।

Off Page SEO में क्या क्या चीज़े हैं?


Off Page SEO में बोहोत से चीज़े सामिल है जिसे पूरी तरह अच्छे से करने पर Google या किसी Search Engine में बोहोत ही जल्दी रैंक होने कि उम्मीद लगाया जा सकता है।
इसमें है


  • आर्टिकल के लिए बैकलिंक बनाना।
  • आर्टिकल को सोशल मीडिया पे शेयर करना।ब्लॉ
  • ब्लॉग कि लिए साइटमैप बनाना ओर उसे गूगल सर्च कंसोल तथा अलग अलग सर्च इंजन में सबमिट करना।
  • आर्टिकल को सर्च कंसोल में सबमिट करना।
  • आर्टिकल को रैंक कराने के लिए Ads का हेल्प लेना।


Off Page SEO के क्या फायदा है?


भिन्न भिन्न सर्च इंजन में पोस्ट को रैंक कराने के लिए webmaster tool में साइटमैप सबमिट कराना बोहोत ही अच्छा निर्णय होता है।इसके बिना Google में रैंक तो क्या ,आर्टिकल को कीवर्ड के मदद से सर्च इंजन में खोजा भी नहीं जाएगा।
इसीलिए Off Page SEO करना किसी ऑनलाइन क्रिएटर के लिए एक SEO के दृष्टि से प्रमुख काम है।

3.Image SEO


Image SEO एक तरह से इमेज को सर्च इंजन में रैंक कराने के ही प्रकिया है।इसमें खास कर इमेज ओर विडियोज को ही टारगेट किया जाता है।
हालांकि ये एक तरफ से On Page SEO के ही एक अंग है।फिर भी किसी पोस्ट में अगर इमेज डाली जाती है तो इमेज के लिए अलग से Search Engine Optimisation किया जाता है।
Image SEO आजकल बोहोत चर्चित है खास कर उन वेबसाइट के बीच में जो कि  यूजर को इमेजेस ओर विडियोज शेयर करते हैं।
Image SEO आजकी युग में काफी आगे तक जाने भी वाला है क्योंकि फोटोग्राफी की दर तो अभी शुरू ही हुआ है।

Image SEO में क्या क्या चीज़े हैं?


किसी इमेज को गूगल में रैंक कराने इसमें 3 चीज़े खूब महत्वपूर्ण होता है।
इसमें है


  • Image की caption को अच्छी तरीके से देना।इ
  • इमेज alt text में अच्छे से कीवर्ड लगाना।
  • इमेज का नाम आर्टिकल के रिलेटेड रखना।


Image SEO का क्या फायदा है?


आप देखेंगे Google में Image ओर Videos के लिए एक अलग से सेक्शन होता है।
ऐसे में ठीक से पूरी संपूर्णता से Image SEO करने पर आपको अपने Blog में अच्छी खासी Traffic मिलने का मौका बोहोत बढ़ जाता है।

Image SEO में एक और बड़ी सबसे फायदा ये है कि इसमें On Page SEO या Off Page SEO के जैसे बोहोत महनेत भी नहीं करना पड़ता है।

4.Local SEO


Local SEO एक ऐसा SEO है जिसमें क्रिएटर एक place को टारगेट करते हैं।जैसे कि नाम से ही पता चलता है कि ये SEO है लोकल कीवर्ड के लिए। यानी अगर आप अपनी घर की आसपास की जगह के बारे में या फिर आप चाहते कि आपके उसी जगह ट्रैफिक आए तो आपको इसमें Local SEO की मदद लगने वाली है।

इसके लिए आप एक उदाहरण से भी समझ सकते है।
मान लीजिए एक जगह है DELHI।ओर कोई businessman है जो दिल्ली में मिठाई बेचते हैं।ऐसे में अगर ओ अपने मिठाई दुकान का वेबसाइट बनाता है तो उसको Local SEO करना पड़ेगा।ताकि दिल्ली के लोग उस मिठाई की दुकान के बारे में Online जान सके तथा उस दुकान से मिठाई ऑनलाइन ऑर्डर भी दे सके।

Local SEO में क्या क्या चीज़े हैं?


Local SEO सबसे ज्यादा जो जरूरत होता है वो है Local Keyword।क्योंकि बिना local keyword के Local SEO की कल्पना की नहीं जा सकती।
अगर बात करे ओर भी चीज़ों कि तो आप इसमें On Page SEO ओर Off Page SEO की चीज़े भी जोड़ सकते है।
तथा आप इसमें Image SEO के चीज़े भी जोड़ सकते हैं।

Local SEO का क्या फायदा है?


Local SEO का सबसे बड़ा फायदा है उन बिजनेस का है जो उस क्षेत्र में है।ऐस में ये अनिवार्य है कि वो बिजनेस ऑनलाइन भी मजुद हो।
या फिर कोई इंसान अगर किसी Local जानकारी दे रहा है किसी साइट में तो भी उसके लिए Local SEO उतना ही मायने रखता है।
Local SEO से ज्यादातर लोकल बिजनेस को ओर उन्नत बनाने के लिए ही किया जाता है।

Conclusion


आशा है आप अच्छे तरीके से समझ गए है की SEO क्या है,SEO कितने प्रकार के होता है।अब शायद आपको कोई कन्फ्यूजन नहीं है कि आखिर On Page SEO क्या है और Off Page SEO क्या है।इस पोस्ट में आप ओर भी दो तरीके के SEO के बारे में जाने जो है Image SEO ओर Local SEO।
अगर आपको SEO के बारे में जानकारी पढ़के थोड़ा सा भी अच्छा लगा है तो आप इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर शेयर करें ओर आपके बहुमूल्य कॉमेंट हमें जरूर दे।
ऐसे ही ओर नई नई Blogging के बारे में जानकारी पाने के लिए आप हमारे ब्लॉग को Twitter या Instagram में जरूर follow करें।
तो आजके लिए इतना ही आपसे फिर मुलाकात होगा एक नए ओर knowledgefull पोस्ट के साथ तब तक के लिए खुश रहिए,मजे में रहिए।
                       जय हिन्द
                           बंदे मातरम

टिप्पणी पोस्ट करें

4 टिप्पणियां

🚫🚫अगर Comment Box में Hyperlink या किसी तरह का link हो तो ये Spam माना जाएगा।🚫🚫
आशा करता हूं कि आप comment में User Friendly सब्द लिखेंगे।
धन्यवाद..........